*_तकदीर के खेल से_*
*_नाराज नहीं होते_*
*_जिंदगी में कभी_*
*_उदास नहीं होते_*
*_हाथों किं लक़ीरों पे_*
*_यक़ीन मत करना_*
*_तकदीर तो उनकी भी होती हैं ,_*
*_जिन के हाथ ही नहीं होते_।*

Hindi Quotes by Bhargav Amin : 105
New bites

The best sellers write on Matrubharti, do you?

Start Writing Now